IMG 20220729 WA0007
ताज़ा खबर

बिना लाइसेंस व फार्मासिस्ट धड़ल्ले से चल रहे मेडिकल स्टोर,जिम्मेदार मौन :एक ही लाइसेंस पर चल रहे कई मेडिकल स्टोर


महदेईया बाजार(बलरामपुर)। मेडिकल स्टोरों पर प्राइमरी पास लोग मरीजों को गंभीर से गंभीर रोगों की दवा दे रहे हैं। एक दो नहीं बल्कि क्षेत्र के तमाम मेडकिल स्टोर ऐसे हैं जिनका नियम कानून से कोई वास्ता नहीं है। फिर भी धड़ल्ले से चल रहे हैं। इन मेडिकल स्टोर संचालकों के खिलाफ कभी कार्रवाई नहीं होती है।

महदेईया बाजार क्षेत्र में दर्जनों मेडिकल स्टोर बाजार से लेकर गांव तक खुले हैं। नियम है कि फार्मासिस्ट का होना जरूरी है। खरीद बिल, शिड्यूल एच-वन की दवाओं का रखरखाव बेहतर हो, उनका रिकार्ड होना चाहिए। कैश मेमो जरूर दें। लेकिन इन नियमों का पालन नही किया जा रहा। ज्यादातर मेडिकल स्टोर बिना फार्मासिस्ट के ही चलते हैं। संचालक प्राइमरी पास युवकों को अपने-अपने मेडिकल स्टोरों पर रखे हुए हैं। जो गंभीर से गंभीर मरीजों को इलाज के नाम पर दवाएं दे देते हैं। कई मेडिकल स्टोर तो ऐसे है जो एक ही लाइसेंस पर कई मेडिकल स्टोर संचालित कर रहे है। कुछ मेडिकल स्टोर व्होलेसेल के लाइसेंस पर धड़ल्ले से चल रहे है। तमाम कमियां होने के बाद भी विभाग कार्रवाई के नाम पर औपचारिकता निभाता है। जब कभी कार्रवाई की भी बारी आती तो उसमें भी विभाग की मनमानी सामने आती है। जिससे आम लोगों के जीवन से खिलवाड़ हो रहा है।

फार्मेसी एंड फार्मासिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष राजेश कुमार यादव ने अवैध रूप से बिना फार्मासिस्ट के चल रहे मानकविहीन मेडिकल स्टोरों की जांच कर उनके संचालको के विरूद्ध कठोर कार्रवाई की मांग किया है।

(आमिर हसन सिद्दीकी की रिपोर्ट )