Mishr11o
ताज़ा खबर

स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए हर संभावित अंक के लिए करना होगा कार्य-कमिश्नर मिश्रा


रायगढ़। निगम कमिश्नर श्री संदीप मिश्रा ने मंगलवार को स्वच्छ सर्वेक्षण तीन की समीक्षा बैठक ली इस दौरान उन्होंने सर्वेक्षण के लिए निर्धारित सभी स्तर के संभावित हमको को प्राप्त करने कार्य करने के निर्देश दिए।
मंगलवार की सुबह 11:30 बजे से बैठक शुरू हुई। दौरान स्वच्छ सर्वेक्षण 2023 के लिए जारी गाइडलाइन के अनुसार विभिन्न आयाम के लिए टीम गठित करने और टीम प्रभारी की जवाबदेहीता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए।
इसके बाद सिगरेट कलेक्श के स्तर, प्रोसेसिंग एवं डिस्पोजल के स्तर, सनस्टेबल सैनिटेशन के स्तर, सिटीजन फीडबैक, बाय सिटीजंस फॉर सिटीजंस के स्तर, सिटीजन एक्सपीरियंस के स्तर, इन्नोवेशन एंड बेस्ट प्रैक्टिस के स्तर, स्वच्छता एप लोकल एप के स्तर, डिजास्टर एपिडेमिक रिस्पांस प्रिपरेशन पर की तैयारी की जानकारी ली गई। इस दौरान स्वच्छ सर्वेक्षण के विभिन्न आयाम के संभावित अंक पर चर्चा की गई। कमिश्नर श्री मिश्रा ने कहा कि स्वच्छ सर्वेक्षण के विभिन्न आयामों में विभिन्न स्तरों के अंक पहले से निर्धारित हैं। इसमें डॉक्यूमेंटेशन से लेकर फील्ड तक के कार्य के लिए निगम के अधिकारी कर्मचारियों के भागीदारी सुनिश्चित करने के साथ शहरवासियों को स्वच्छ सर्वेक्षण के लिए जोड़ने की बात कही गई। उन्होंने कहा कि निगम प्रशासन द्वारा हर स्तर पर कार्य किया जा रहा है। आगे के लिए भी कार्ययोजना बनाकर कार्य किए जाएंगे, लेकिन इसमें सबसे ज्यादा जरूरी शहरवासियों की सहभागिता जरूरी है। जब तक शहरवासी स्वच्छता के प्रति खुद से जागरूक नहीं होंगे, सूखा एवं गीला कचरा को अलग-अलग डस्टबिन में रखने के साथ अलग-अलग देने की व्यवहार परिवर्तन नहीं करेंगे, अपने घरों के समान ही आसपास की स्वच्छता का ध्यान नहीं रखेंगे, तब तक स्वच्छ सर्वेक्षण में बेहतर परिणाम लाना मुश्किल है। कमिश्नर श्री मिश्रा ने शहर के लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक बनने सूखा एवं गीला कचरा को स्वच्छता दीदियों को अलग-अलग देने और कचरा इधर उधर कहीं भी नहीं फेंकने की अपील की है। बैठक के दौरान कमिश्नर श्री मिश्रा ने स्वच्छ सर्वेक्षण के विभिन्न आयामों में बेहतर कार्य करने अधिकारियों को जिम्मेदारी देने और प्रति सप्ताह बैठक करने की के निर्देश दिए। बैठक में प्रोग्रामर श्रीमती जमुना महापात्र, प्रभारी स्वास्थ्य अधिकारी श्री लक्ष्मी नारायण विश्वकर्मा, सहायक स्वास्थ्य अधिकारी श्री रमेश तांती, सेनेटरी इंस्पेक्टर श्री राजेश पांडे, मिशन प्रेरक श्री प्रहलाद तिवारी व विकास पटेल उपस्थित थे।