ताज़ा खबर

पोषण पखवाड़ा कार्यक्रम का हुआ वर्चुअल आयोजन


रायगढ़, 4 अप्रैल 2022/ भारत सरकार युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय तथा राष्ट्रीय सेवा योजना क्षेत्रीय निदेशालय के अंतर्गत महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के निर्देशानुसार 26 मार्च से 04 अप्रैल 2022 तक कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केंद्र, रायगढ़ में पोषण पखवाड़ा कार्यक्रम का वर्चुअल आयोजन किया गया। महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ.ए.के.सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बताया की पर्यावरण ने इंसान को सबकुछ दिया है अत: इसके साथ जीवन में संतुलन बनाने के लिए दिन की शुरुआत प्रात: कालीन योगाभ्यास के साथ शुरू करना चाहिए एवं सुबह के नाश्ते में चना, हरा मुंग, फल्ली दाना एवं बादाम का सेवन करना चाहिए। दिन के भोजन में हरे सब्जी एवं हल्के भोजन लेना चाहिए जिससे शरीर को पोषण युक्त आहार मिलता रहे।
कृषि विज्ञान केंद्र की विषय वस्तु विशेषज्ञ डॉ.श्रीमती मनीषा चौधरी ने सुपर फ़ूड के बारे में बताया की युवा वर्ग को आज के जरुरत के हिसाब से इसे आहार में शामिल करना अत्यंत आवश्यक है, उन्होंने बताया की जो भी भोजन हम लोग लेते हैं उसमें अलग-अलग प्रकार के रंगों के भोजन का शामिल होना अत्यंत आवश्यक है जैसे की दाल, चावल, पालक, सलाद इत्यादि उन्होंने सात दिन, सात भाजी के मॉडल को सभी को अपनाने की बात कही, आनुवंशिकी एवं पादप प्रजनन के वैज्ञानिक डॉ श्रीकांत सांवर गाँवकर ने विद्यार्थी गण को संतुलित एवं पोषणयुक्त आहार लेने के लिए प्रेरित किया और ज्यादा से ज्यादा प्रोटीनयुक्त भोजन ग्रहण करने की सलाह दी। राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी श्री गंगा राम राठिया ने पोषण पखवाड़ा कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विद्यार्थियों को ज्यादा से ज्यादा हरी सब्जियों के सेवन पर बल देने की बात कही जिससे की उनके आँखों की रोशनी के साथ-साथ उनका स्वास्थ्य भी उत्तम रह सके। अतिथि शिक्षक डॉ.योगेश कोसरिया ने विद्यार्थियों से फाइबरयुक्त आहार लेने के लिए प्रोत्साहित किया। बी.एस.सी.तृतीय वर्ष के रितेश कमल ने पोषण युक्त आहार और जीवन शैली के बारे में अपने विचार रखें। सहायक पुस्तकालयाध्यक्ष एवं मीडिया प्रभारी श्री सुनील कुमार गौतम ने कार्यक्रम को संचालित करते हुए पोषण पखवाड़ा कार्यक्रम से संबंधित विद्यार्थियों के लिए क्विज काम्पटीशन का भी वर्चुअल आयोजन किया जिसके प्रथम विजेता के रूप में बी.एस.सी. तृतीय वर्ष के देवेश, दूसरा स्थान अमन पटेल एवं तीसरे स्थान पे संयुक्त रूप से भाविशंकर और जशवंत रहें प् कार्यक्रम में महाविद्यालय के सभी विद्यार्थियों ने भाग लिया। शस्य विज्ञान के सहायक प्राध्यापक श्री संदीप पैंकरा ने सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया ।