ताज़ा खबर

सभी कार्यालयों में अभिलेखों तथा पंजियों का अद्यतन संधारण होना चाहिए – कलेक्टर भीम सिंह


रायगढ़,  सभी कार्यालयों में अभिलेखों तथा पंजियों का अद्यतन संधारण होना चाहिए। कार्यालय प्रमुख इसके लिए अपने अधीनस्थों को निर्देशित करें तथा नियमित रूप से पंजियों की जांच करें। सभी कार्यालयों में सर्विस बुक का सत्यापन भी पूर्ण कर लिया जाए। उक्त बातें कलेक्टर भीम सिंह ने आज समय-सीमा की बैठक में कही। इसके साथ ही उन्होंने लोक सेवा गारंटी के तहत प्रदान की जा रही सेवाओं की जानकारी भी कार्यालयीन पंजियों में अपडेटेड हो। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए।


कलेक्टर श्री सिंह ने समय-सीमा की बैठक में जन समस्या निवारण शिविर के तहत प्राप्त आवेदनों तथा उनके निराकरण के बारे में विभागवार समीक्षा की। उन्होंने मांग तथा समस्याओं के बारे में विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने कहा कि आवेदन पर की गयी कार्यवाही से आवेदक को लिखित रूप में सूचित कर अवगत करायें। पेंशन के प्रकरणों के आवेदनों का प्राथमिकता से निराकरण करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सेवाओं की पहुंच पर जोर देते हुए कहा कि ग्रामीण इलाकों में 5 किलो मीटर के भीतर लोगों को वित्तीय लेनदेन की सुविधा मिलनी चाहिए। इस संबंध में उन्होंने बैंक सखियों द्वारा किए जा रहे कार्यों के बारे में जानकारी ली। बताया गया कि वर्तमान में 197 एक्टिव बैंक सखियां काम कर रही है। उन्होंने गांवों में बैंकिंग सेवाओं की सुगम पहुंच सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।


कलेक्टर श्री सिंह ने जिले में वृहत रूप से ब्लड डोनेशन कैम्प का आयोजन करने के लिए कहा। उन्होंने ब्लॉक मुख्यालयों में कैम्प लगाने तथा उसकी अग्रिम सूचना वहां के एसडीएम तथा अन्य प्रशासनिक अमलों को देने के निर्देश दिए। जिससे स्थानीय स्तर पर कैम्प का व्यापक प्रचार-प्रसार कर ब्लड डोनेशन के लिए लोगों को मोबिलाईज किया जा सके। कलेक्टर श्री सिंह ने राजीव युवा मितान क्लब के गठन हेतु प्राप्त नामों का वेरीफिकेशन पूर्ण करने के निर्देश एडिशनल एसपी को दिए।
गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुए कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि गौठानों में कम्पोस्ट निर्माण में गुणवत्ता तथा मात्रा का विशेष ध्यान रखें। उन्होंने अधिकारियों को नियमित रूप से कम्पोस्ट सैम्पल की जांच करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने महिला समूहों तथा कम्पोस्ट उठाव के भुगतान के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सभी भुगतान नियमित रूप से किए जाये। इसके साथ ही वन विभाग के गौठानों में भी गोधन न्याय योजना के तहत एप के माध्यम से खरीदी करने के निर्देश उन्होंने दोनों डीएफओ को दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने पशुपालन, मत्स्य पालन और उद्यानिकी के केसीसी निर्माण के बारे में जानकारी ली। उन्होंने केसीसी प्रकरण तैयार किए किसानों को इसकी सूचना देने तथा मिलने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी प्रदान करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर श्री सिंह ने मितान योजना के बारे में चर्चा करते हुए लाभ लेने वाले हितग्राहियों को जरूरी दस्तावेज के बारे में अग्रिम सूचना देकर वे दस्तावेज लेते हुए समय में उन्हें सर्टिफिकेट बना कर देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि योजना के तहत लोगों को उन्हें घर में जरूरी सेवाओं के सर्टिफिकेट समय-सीमा के भीतर पहुंचाकर दिया जाना है। कलेक्टर श्री भीम सिंह ने बैठक में राजस्व प्रकरणों के निराकरण की भी समीक्षा की। उन्होंने अभिलेख शुद्धता का कार्य भी तेजी से पूरा करने के लिए कहा। साथ ही अविवादित नामांतरण के प्रकरणों का जल्द निराकरण करने के लिए कहा। कलेक्टर श्री सिंह ने गांवों में 15 जून को विशेष शिविर आयोजित करने के निर्देश दिए। जिसमें शासन की विभिन्न योजनाओं की जानकारी के साथ जनसमस्या निवारण शिविर में उस ग्राम से प्राप्त आवेदनों पर की गयी कार्यवाही का वाचन करने के लिए निर्देशित किया।
बैठक में सीईओ जिला पंचायत अबिनाश मिश्रा, आयुक्त नगर निगम  संबित मिश्रा, डीएफओ धरमजयगढ़  अभिषेक जोगावत, अपर कलेक्टर  आर.ए.कुरूवंशी सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।