छत्तीसगढ़

चाइल्ड पोर्नोग्राफी पर ट्विटर और दिल्ली पुलिस ने नहीं दिया संतोषजनक जवाब, दिल्ली महिला आयोग ने जताया ऐतराज



स्वाति मालीवाल ने एक प्रेस वार्ता में कहा, “आश्चर्यजनक रूप से इनमें से कुछ वीडियो में बच्चों औ् महिलाओं के साथ यौनाचार को भी दिखाया गया है, जब वे सो रहे थे! इन आपराधिक कृत्यों में लिप्त कुछ ट्विटर अकाउंट एक रैकेट चलाते हुए प्रतीत होते हैं, जिसमें वे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के अन्य उपयोगकर्ताओं से बच्चों के अश्लील वीडियो देने के लिए पैसे मांगते हैं।”

आयोग ने कहा कि ऐसे ट्वीटों को न तो डिलीट किया गया और न ही ट्विटर ने कोई रिपोर्ट दी। आयोग ने ट्विटर पर इस समय उपलब्ध ऐसे ट्वीटों की संख्या के बारे में भी डेटा मांगा था। इसके अलावा, आयोग ने पिछले चार वर्षो में ट्विटर द्वारा हटाए और रिपोर्ट किए गए चाइल्ड पोर्नोग्राफी वाले ट्वीटों का आंकड़ा भी मांगा है।



Source link