Smc
ताज़ा खबर

समस्त शालाओं में जम्मो पढ़बो मिल जुर के और एसएमसी की तृतीय मासिक बैठक का हुआ आयोजन 


रायगढ़,  राज्य कार्यालय के निर्देशानुसार रायगढ़ जिले में भी शाला प्रबंधन समिति की आवश्यक बैठक जिले के सभी स्कूलों में आयोजित किया गया। बैठक के लिए पूर्व में समिति के सदस्यों, स्थानीय जनप्रतिनिधियों, पालको एवं माताओं को भी आमंत्रित किया गया था। बैठक के दौरान राज्य कार्यालय एवं जिला कार्यालय द्वारा दिये गए 22 बिंदुओं पर शाला प्रबंधन समिति के सदस्यों द्वारा गहन विचार विमर्श किया गया। इस दौरान पूर्व में लिए गए बैठक की गई कार्यवाही का फिड बैक समिति के सदस्यों द्वारा लिया गया।
रायगढ़ जिले के सभी विकास खंडों के समस्त शालाओं में रायगढ़ जिले की अभिनव पहल जम्मो पढ़बो मिल जुर के कार्यक्रम का सफल आयोजन हुआ। विदित हो कि राज्य कार्यालय के निर्देश के परिपालन में 20 जनवरी 2023 को रायगढ़ जिले के समस्त विकासखंडों के सभी शालाओं में शाला प्रबंधन समिति की तृतीय मासिक बैठक का भी आयोजन कराया गया। जिला शिक्षा अधिकारी रायगढ़ श्री बी.बाखला के निर्देशन में रायगढ़ जिले में शाला प्रबंधन समिति की तृतीय मासिक बैठक के साथ-साथ रायगढ़ जिले की अभिनव पहल एक दिवसीय पठन जम्मो पढ़बो मिल जुर के कार्यक्रम के अंतर्गत शाला प्रबंधन समिति के सभी सदस्यों के साथ-साथ पालकों, माताओं एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया था। इसके लिए हाई स्कूल, हायर सेकेंडरी शालाओं के उपलब्ध पुस्तकालय एवं प्राथमिक व माध्यमिक शालाओं के मुस्कान पुस्तकालय की पुस्तकों का उपयोग करते हुए जम्मो पढ़बो मिल जुर के कार्यक्रम के अंतर्गत एक दिवसीय पठन कराया गया। उक्त कार्यक्रम के आयोजन हेतु जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय रायगढ़ से विस्तृत दिशा-निर्देश भी जारी किए गए थे। जिसके अंतर्गत शाला प्रबंधन समिति के सदस्यों के साथ बच्चों के माध्यम से पालकों व स्थानीय जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जा कर एक-एक पुस्तक पढऩे हेतु प्रेरित किया जाना था। इसके लिए रायगढ़ जिले के समस्त शालाओं में पूर्व व्यापक तैयारी के अंतर्गत पुस्तकों की व्यवस्था, बैठक व्यवस्था, पानी की व्यवस्था, वितरण पंजी, जैसे मूलभूत चीजों की पूरी तैयारी कर ली गई थी। साथ ही साथ जिला कार्यालय द्वारा गूगल डाक में संकुल वार जानकारी की प्रविष्टि करते हुए कार्यक्रम के दौरान फोटो वीडियो लेते हुए उच्च कार्यालय को प्रतिवेदन प्रेषित किया जाना का भी निर्देश दिया गया था।