अंतराष्ट्रीय

जलवायु परिवर्तन से निपटने के उपायों में तेजी लाने की जरूरत, WHO के विशेषज्ञ बोले- अभी रफ्तार काफी धीमी



उन्होंने चेतावनी दी कि अत्यधिक तापमान के कारण गर्मी बढ़ती है, जो यूरोप में मौसम से संबंधित मौत का प्रमुख कारण बन गया है।

क्लूज ने डब्ल्यूएचओ के आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि 2022 में यूरोप में गर्मी से 15 हजार से अधिक लोगों ने दम तोड़ दिया।

उन्होंने कहा पिछले साल, बाढ़, तूफान आदि घटनाओं ने पांच लाख से अधिक लोगों को प्रभावित किया।

क्लूज ने विश्व मौसम विज्ञान संगठन (डब्लूएमओ) की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि यूरोप दुनिया में सबसे तेजी से गर्म होने वाला इलाका है, जहां 50 वर्षों में अधिक गर्मी के कारण 1 लाख 48 हजार से अधिक लोगों की जान चली गई।

क्लूज के अनुसार उनका संगठन किसी भी जलवायु परिवर्तन योजना में स्वास्थ्य को शामिल करने के लिए डब्ल्यूएचओ के सदस्यों के सामूहिक प्रयासों की अपेक्षा रखता है।

उन्होंने कहा, अगर हमें जलवायु संकट से अपने क्षेत्र और पूरी पृथ्वी को बचाना है, तो हमें इस दिशा में तत्काल कार्य करने की आवश्यकता है।



Source link