छत्तीसगढ़

ट्विन टावर के आसपास रहने वालों को घर वापस लौटने की मिली हरी झंडी, नोएडा प्रशासन ने जांच के बाद दी इजाजत



ट्विन टावर से सटी सोसाइटी एमराल्ड कोर्ट और एटीएस विलेज को पूरी तरह से खाली करवाया गया था। अब रहवासियों ने वापस अपने घर लौटना शुरू कर दिया है। कुछ लोग अपने फ्लैट देखने पहुंच भी गए हैं, तो वहीं कुछ रहवासी देर रात या फिर कल तक अपने घरों में वापस लौटेंगे।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

Engagement: 0

दिल्ली से सटे नोएडा के सुपरटेक ट्विन टावर को गिराने का काम पूरा होने के बाद आसपास की उन सोसाइटी के लोगों को वापस लौटने की इजाजत मिल गई है, जिन्होंने एहतियातन अपने घर खाली किए थे। निरीक्षण करने के बाद नोएडा प्रशासन ने सभी लोगों को वापस लौटने की इजाजत दे दी है। इससे पहले ट्विन टावर को गिराने का ऑपरेशन रविवार को सफलतापूर्वक संपन्न हो गया।

वहीं अब ध्वस्तीकरण साइट के आसपास बनी इमारतें, जिन्हें एहतियात के तौर पर खाली कराया गया था, उनके रहवासियों को अपने-अपने घरों में लौटने के लिए नोएडा प्रशासन और ब्लास्ट कंपनी की तरफ से हरी झंडी मिल गई है। सोसाइटी से जुड़े संबंधित लोगों को इसकी सूचना पहुंचा दी गई है। कुछ रहवासी अपने फ्लैट को देखने पहुंचने भी लगे हैं।

ट्विन टावर से सटी सोसाइटी एमराल्ड कोर्ट और एटीएस विलेज को पूरी तरह से खाली करवाया गया था। अब रहवासियों ने वापस अपने घर लौटना शुरू कर दिया है। कुछ लोग अपने फ्लैट देखने पहुंच भी गए हैं, तो वहीं कुछ रहवासी देर रात या फिर कल तक अपने घरों में वापस लौटेंगे। दरअसल प्रशासन ने ब्लास्ट के बाद पहले आसपास की इमारतों में निरीक्षण किया और फिर रहवासियों को वापस लौटने की इजाजत दे दी।

वहीं दूसरी तरफ नोएडा प्रशासन ने बताया कि पूरी प्रक्रिया में एटीएस विलेज की करीब 10 मीटर बाउंड्री दीवार छतिग्रस्त हुई है, जिसे जल्द दुरुस्त करवा दिया जाएगा। वहीं कुछ खिड़कियों के कांच टूटने की जानकारी भी मिली है। जानकारी के मुताबिक एमराल्ड कोर्ट इमारत को ब्लास्ट की इस प्रक्रिया में कोई नुकसान नहीं हुआ है।




Source link