छत्तीसगढ़

गुरुग्राम के जिस मॉल पर CBI, ED ने मारा छापा, वो BJP वालों का निकला, तेजस्वी ने कागजात दिखाकर किया दावा



अपना नाम घसीटे जाने पर पलटवार करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि मुझे अफसोस है कि जिस मॉल और कंपनी को मुझसे जोड़कर बताया जा रहा है, वह असल में बीजेपी वालों का ही है। तेजस्वी ने चुटकी लेते हुए कहा कि मेरा मॉल पकड़ने गए थे, लेकिन बीजेपी वालों का मॉल पकड़ लिया।

फोटोः @yadavtejashwi
फोटोः @yadavtejashwi
user

Engagement: 0

बिहार के उपमुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी पर सीबीआई, ईडी और आयकर विभाग जैसी केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग का आरोप लगाया है। उन्होंने आज दावा किया कि दो दिन पहले गुरुग्राम के जिस मॉल पर सीबीआई, ईडी और आयकर ने छापा मारा था और जिसे उनका बताया जा रहा था, उसका संबंध बीजेपी से है। तेजस्वी ने कागजात पेशकर केंद्रीय एजेंसियों को जांच की चुनौती दी है।

तेजस्वी यादव ने कहा कि गुरुग्राम के एक मॉल पर उसी दिन सीबीआई, ईडी और आयकर का छापा मारा गया, जिस दिन महागठबंधन सरकार विधानसभा में विश्वास मत हासिल कर रही थी।। उन्होंने दावा किया कि कुछ सूत्रों के हवाले से गोदी मीडिया ने इस मॉल को मेरा बताया था, जबकि सच्चाई है कि इसके असली मालिकों के रिश्ते बीजेपी से हैं।

तेजस्वी यादव ने कहा, “जिस कंपनी, मॉल और उसके शेयर्स को गोदी मीडिया के सूत्र मेरा बता रहे है वह कंपनी 2021 में बनी। उसके दो निदेशक हैं जो हरियाणा के हैं। इन दोनों लोगों के पास कंपनी के सारे शेयर हैं। दलाल, बिकाऊ और गंदे सूत्रों के अवलोकनार्थ सारे कागजात सामने रख रहा हूं। कुछ शर्म बची हो तो खुद को धिक्कार भेजना।“ आरोपों के साथ उन्होंने वाइटलैंड के कार्यक्रम से जुड़ा सीएम मनोहर लाल खट्टर का एक वीडियो भी जारी किया।

एक और ट्वीट में तेजस्वी ने कहा, “गोदी मीडिया अपने आकाओं के आदेश पर गुरुग्राम की व्हाइटलैंड कंपनी के जिस मॉल को मेरा बता रही है उसका उद्घाटन और बखान हरियाणा के बीजेपी सांसद और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी ने किया था। कंपनी के प्रमुख शेयर होल्डर नवदीप और निदेशकों के सीएम खट्टर के साथ मधुर संबंध है। हरियाणा के सीएम के साथ-साथ बीजेपी के सांसद और गुरुग्राम की बीजेपी की मेयर ने भी उस कंपनी का अनुमोदन किया है। हर प्रोजेक्ट में ये लोग उपस्थित रहते है। अब कराओ सीबीआई से इनकी जांच।“

सीबीआई की छापेमारी और इसमें उनका नाम घसीटे जाने पर पलटवार करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि मुझे अफसोस है कि जिस मॉल और कंपनी को मुझसे जोड़कर बताया जा रहा था, वह असल में बीजेपी वालों का ही है। तेजस्वी ने चुटकी लेते हुए कहा कि मेरा मॉल पकड़ने गए थे, लेकिन उन्होंने बीजेपी वालों का मॉल पकड़ लिया। उन्होंने पूछा कि क्या सीबीआई और ईडी अब इनके खिलाफ केस और जांच करेगी?




Source link