ढाबे के गैस सिलेंडर में लगी भीषण आग, फैली सनसनी ,रील बनाने के चक्कर में जान गवाई


एक्सक्लूसिव 07 April 2024 (160)
post

Azaad-bharat/कानपुर। कानपुर में रील्स बनाने के चक्कर में जान गंवाने का मामला सामने आया है। यहां एक ढाबे में गैस सिलेंडर में आग लगी थी। उस आग को बुझाने की जगह 2 युवक वीडियो बनाने लगे। इसी दौरान अचानक हुए विस्फोट में एक युवक की मौत हो गई। जबकि 2 लोग बुरी तरह से घायल हो गए। धमाके की आवाज सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। लोगों ने फायर ब्रिगेड को घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से दोनों घायलों को अस्पताल भेजा। साथ ही शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। फायर ब्रिगेड ने काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया सूरत में केंद्रीय मंत्री पुरूषोत्तम रुपाला के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर क्षत्रिय समाज ने दायर की याचिका घटना बिल्हौर कोतवाली क्षेत्र की है। उत्तरीपुरा कस्बे के नदीहा रोड पर देसी शराब के ठेके के पास मांस-मछली और अंडे की कई दुकानें हैं। यहीं पर खजुरिया निवादा के रहने वाले जीत का ढाबा भी है। इसी ढाबे में रखे गैस सिलेंडर में अचानक आग लग गई। देखते ही देखते आग ने पास में राहुल गुप्ता की दुकान को भी चपेट में ले लिया। आग को विकराल होते देख आसपास के इलाके में अफरा-तफरी मच गई। इसी बीच ढाबे के अंदर रखे तीन गैस सिलेंडरों ने भी आग पकड़ ली। इस दौरान दो सिलेंडर फट गए। केआईआईटी विश्वविद्यालय में वार्षिक इफ्तार पार्टी का आयोजन किया गया बताया जा रहा है कि इस दौरान शांति नगर उत्तरीपुरा के रहने वाले सुरेश राठौर का 19 साल का बेटा निखिल मौके पर था। उसके साथ ही ढूकापुर शिवराजपुर का रहने वाला तुलई और नदिहा रोड पूरा का रहने वाला अमन (18) पुत्र चेतराम भी था। निखिल को रील बनाने का शौक था। जब दुकानों में आग लगी, तो उसी बीच एक सिलेंडर भी धधक रहा था। यह जानते हुए कि सिलेंडर कभी भी ब्लास्ट कर सकता है, निखिल और अमन रील बनाने लगे। इसी बीच सिलेंडर का एक टुकड़ा निखिल के पेट में जा घुसा। इससे निखिल की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। जबकि अमन और तुलई गंभीर रूप से घायल हो गए।


You might also like!



RAIPUR WEATHER