राष्ट्रीय

उदयपुर-अहमदाबाद रेल लाइन उड़ाने की कोशिश, 13 दिन पहले पीएम मोदी ने ट्रैक का किया था उद्घाटन



खास बात है कि इस ट्रैक की मांग मेवाड़-वागड़ के लोग पिछले 14 साल से कर रहे थे, जिसे असामाजिक तत्वों ने 14 दिन भी नहीं रहने दिया। 13 दिन पहले ही पीएम मोदी के असवार स्टेशन पर हरी झंडी दिखाकर ट्रेन को रवाना करने के बाद इस रूट पर नियमित ट्रेन चलनी शुरू हुई थी।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

Engagement: 0

महज 15 दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान-गुजरात को रेलवे लाइन से जोड़ने वाले जिस ब्रॉडगेज ट्रैक का उद्घाटन किया था, उसे शनिवार रात असामाजिक तत्वों ने विस्फोटक सामग्री लगाकर उड़ा दिया। धमाके की आवाज इतनी तेज थी कि 3 किलोमीटर के दायरे में उसकी आवाज सुनाई दी।

खास बात यह है कि इस ट्रैक की मांग मेवाड़-वागड़ के लोग पिछले 14 साल से कर रहे थे, जिसे असामाजिक तत्वों ने 14 दिन भी नहीं रहने दिया। 13 दिन पहले ही पीएम मोदी ने गुजरात के असवार रेलवे स्टेशन से ट्रेन को हरी झंडी देकर रवाना किया था और उसके बाद इस रूट पर नियमित ट्रेन चल रही थी।

घटना के बाद मौके पर रेलवे सहित प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटना की जांच शुरू कर दी है। जानकारी के मुताबिक यह घटना शनिवार रात करीब 8 से 9 बजे के बीच की है। यह घटना उदयपुर शहर से 50 किलो मीटर दूर जावर माइंस कस्बे के पास हुई है। विस्फोट खारवा चंदा स्टेशन और जावर माइंस स्टेशन के बीच करीब 8 किलोमीटर की दूरी पर हुआ है।

ग्रामीणों को रात में आवाज आई थी, लेकिन कुछ लोगों का कहना है कि ऐसा लगा कि माइंस में विस्फोट हुआ होगा। फिर भी ग्रामीण युवकों का एक दल सुबह ट्रैक के पास पहुंचा और देखा तो पटरी टूटी हुई थी और बोल्ट भी निकले हुए थे। इससे अंदाज लगाया गया कि विस्फोट यहीं पर हुआ और माइनिंग में काम आने वाले विस्फोटक से ब्लास्ट किया गया।




Source link