छत्तीसगढ़

जापान में राजकीय समारोह में दिवंगत पीएम शिंजो आबे को दी गई अंतिम विदाई, भारत से पीएम मोदी हुए शामिल



जापान में मंगलवार को दिवंगत प्रधानमंत्री शिंजो आबे का राजकीय रीति से अंतिम संस्कार किया गया। मध्य टोक्यो में निप्पॉन बुडोकन में शिंजो आबे की अस्थियों का कलश रखा गया और फिर तोप से सलामी दी गई। कार्यक्रम में पीएम मोदी समेत दुनिया भर के हजारों गणमान्य लोग शामिल हुए।

जुलाई में एक चुनावी रैली में 67 वर्षीय राजनेता और पूर्व पीएम शिंजो आबे की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, मध्य टोक्यो में निप्पॉन बुडोकन क्षेत्र में आयोजित कार्यक्रम की सुरक्षा के लिए करीब 20,000 पुलिस अधिकारियों को तैनात किया गया था। कार्यक्रम पर 165 अरब येन (11 मिलियन डॉलर) का खर्च आएगा। यह जापान में दूसरा राजकीय अंतिम संस्कार है। इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री योशिदा शिगेरू का राजकीय रीति से अंतिम संस्कार किया गया था।

दिवंगत नेता शिंजो आबे के राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए टोक्यो के एक दिवसीय दौरे पर आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को अपने जापानी समकक्ष फुमियो किशिदा से मुलाकात की और द्विपक्षीय बैठक की। बैठक के बाद मोदी ने एक ट्वीट में कहा, “पीएम किशिदा के साथ एक उपयोगी बैठक हुई। हमने विभिन्न द्विपक्षीय विषयों पर चर्चा की। मैंने पूर्व पीएम शिंजो आबे के दुखद निधन पर अपनी संवेदना व्यक्त की।”

विदेश मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि बैठक के दौरान, प्रधानमंत्री मोदी ने भारत-जापान साझेदारी को मजबूत करने के साथ-साथ एक स्वतंत्र, खुले और समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र के दृष्टिकोण की अवधारणा में आबे के योगदान का उल्लेख किया। मोदी और किशिदा ने कई क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर भी चर्चा की और भारत-जापान विशेष रणनीतिक और वैश्विक साझेदारी को और मजबूत करने के लिए अपनी प्रतिबद्धता को नवीनीकृत किया।

मोदी दुनिया भर के उन हजारों गणमान्य व्यक्तियों में शामिल हैं, जो मध्य टोक्यो के निप्पॉन बुडोकन अखाड़े में राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल हुए। 67 वर्षीय शिंजो आबे की 8 जुलाई को हत्या कर दी गई थी, जब वह नारा शहर में एक चुनाव अभियान को संबोधित कर रहे थे।





Source link