छत्तीसगढ़

लेवाना होटल अग्निकांड: 17 अधिकारियों पर गिरी गाज, सस्पेंड करने का आदेश



लेवाना अग्निकांड में दोषी पाए गए 19 अधिकारियों में से दो रिटायर हो चुके हैं। जिन अधिकारियों पर कार्रवाई की गई है, उनमें सीएफओ, तत्कालीन आबकारी अधिकारी, तत्कालीन विहित अधिकारी समेत कई अधिकारी शामिल हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

Engagement: 0

लखनऊ के लेवाना होटल अग्निकांड मामले की जांच रिपोर्ट सामने आने के बाद प्रदेश सरकार ने दोषी अधिकारियों पर बड़ी कार्रवाई की है। 17 अधिकारियों को सस्पेंड करने का आदेश दिया गया है। जांच रिपोर्ट में 6 विभागों 19 अफसरों को सीधे जिम्मेदारी बताया गया है। जांच में अवैध निर्माण और सुरक्षा मानकों की अनदेखी के लिए लखनऊ विकास प्राधिकरण और अग्निशमन अधिकारियों को लेवाना होटल अग्निकांड के लिए दोषी पाया गया है। इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद राज्य सरकार ने इन अधिकारियों को निलंबित करने का आदेश दिया है।

लेवाना अग्निकांड पर लखनऊ पुलिस कमिश्नर एसबी शिरोडकर और कमिश्नर रोशन जैकब ने अपनी रिपोर्ट सौंपी है। इस मामले में दोषी पाए गए 19 अधिकारियों में से दो रिटायर हो चुके हैं। जिन अधिकारियों पर कार्रवाई की गई है, उनमें सीएफओ, तत्कालीन आबकारी अधिकारी, तत्कालीन विहित अधिकारी समेत कई अधिकारी शामिल हैं।

लखनऊ के मौजूदा CFO विजय कुमार सिंह और फायर ऑफिसर योगेंद्र प्रसाद को भी सस्पेंड करने का आदेश दिया गया है। साथ ही बिजली विभाग के तीन अधिकारी- सहायक निदेशक विद्युत सुरक्षा विजय कुमार राव, अवर अभियंता आशीष मिश्रा, उपखंड अधिकारी राजेश मिश्रा को भी निलंबित करने का आदेश दिया गया है। एलडीए में तैनात तत्कालीन विहित प्राधिकारी महेंद्र कुमार मिश्रा पर भी कार्रवाई की गाज गिरी है। उन्हें भी निलंबित करने का आदेश दिया गया है।




Source link