छत्तीसगढ़

नोएडा ट्विन टावर धमाका: पास के फ्लैटों को भारी नुकसान, खिड़कियां टूटी, पिलर्स में आई दरार, देखें तबाही की तस्वीरें!



नोएडा के ट्विन टावर में हुए ब्लास्ट के बाद धीरे-धीरे जब लोग घर पर पहुंच रहे हैं तो उन्हें पता चल रहा है कि उनके घर में क्या नुकसान हुआ है। ज्यादातर लोगों के घरों में खिड़कियां चटक गई हैं या टूट गई हैं। पास वाली सोसाइटी एटीएस की बात करें तो वहां पर काफी फ्लैट की बालकनी और फ्लैट्स में दरारें आई है।

2617e332f5a4dc659a50f8b3de52859c
फोटो: IANS

लोगों को उम्मीद थी कि बाउंड्री वॉल और प्लास्टर झड़ने जैसी दिक्कतें ज्यादा आएंगी। घरों की खिड़कियां टूटने की असल वजह है, आवाज की वैक्यूम से टूटे शीशे।

cf5117bfa1edda3485a525c2349453cb
फोटो: IANS

सेक्टर-93ए में जो ब्लास्ट किया गया उससे 101 डेसीबल की आवाज हुई। जबकि धमाके से ठीक 10 मिनट पहले ये 65 डेसीबल थी। दस मिनट के बाद दोबारा से ध्वनि वापस 65 डेसीबल पर पहुंच गई। ये जानकारी यूपीपीसीबी के अधिकारी ने दी।

3292ee6b2abe8468ab14af35e3d14067
फोटो: IANS

दो से तीन मिनट तक 70 से 80 डेसीबल तक पहुंचने पर स्वास्थ्य के लिए खतरनाक होता है। और 110 डेसीबल में आदमी चिड़चिड़ा होने लगता है। इसका प्रभाव लोगों पर तो नहीं पड़ा लेकिन सोसाइटी के घरों के कांच पर इसका प्रभाव दिखा।

eec36af1e8693d70a1fa695a07f3c314
फोटो: IANS

प्राधिकरण के एक्सपर्ट ने बताया कि यहां लोग घर बंद करके गए थे। घर में एक वैक्यूम बनती है। ब्लास्ट के दौरान उत्पन्न हुई ध्वनि और गैस से भी एक वैक्यूम बनी।

677de9f306192c91283ea341e69329da
फोटो: IANS
e93e8c389b7807a4341476ef478e442c
फोटो: IANS
a16f789d0f5651108e910c6024d0fb0e
फोटो: IANS
2617e332f5a4dc659a50f8b3de52859c
फोटो: IANS
twin tower blast
फोटो: IANS

जिससे घर के अंदर और बाहर दोनों का लेवल बिगड़ा और शीशे टूट गए। अभी तक एटीएस और एमराल्ड में कई घरों में शीशे टूटने की जानकारी मिली है।



Source link