छत्तीसगढ़

नीतीश ने फिर उठाई बिहार के विशेष राज्य के दर्जे की मांग, कहा- माहौल बिगाड़ने का काम कर रही केंद्र में बैठी सरकार



बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गुरुवार को एक बार फिर बिहार के विशेष राज्य का मुद्दा उठाते हुए कहा कि बिहार पिछड़ा राज्य है। हम लोगों को विशेष राज्य का दर्जा मिल गया होता तो बिहार कितना आगे बढ़ गया होता। उन्होंने कहा कि सभी पिछड़े राज्यों को विशेष दर्जा मिलना चाहिए।  मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि दिल्ली की सरकार समाज में गड़बड़ माहौल बना रही है, उसका कोई ठिकाना नहीं है वह कब क्या कर देगी। बीजेपी पर निशाना साधते हुए नीतीश ने कहा कि समाज में नफरत फैलाने का काम बीजेपी के लोग ही कर रहे हैं। माहौल बिगड़ने कि कोशिश की जा रही है लेकिन बिहार के लोग सब समझते हैं।

बिहार के विकास में भाजपा की केंद्र सर्कार बढ़ा बन रही है ऊपर से समाज में जहर घोलने का काम भी भाजपा ही कर रही है। मुख्यमंत्री गुरुवार को उर्दू अनुवादक एवं अन्य उर्दू कर्मियों के नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि हिंदी के साथ उर्दू जानेंगे तो आपकी भाषा और बेहतर होगी।

इस कार्यक्रम में कुल 183 उर्दू अनुवादक एवं अन्य उर्दू कर्मियों को नियुक्ति पत्र वितरित किया गया है, जिसमें उर्दू अनुवादक, सहायक उर्दू अनुवादक, निम्नवर्गीय उर्दू लिपिक और निम्नवर्गीय हिंदी लिपिक शामिल हैं।



Source link