पैसा बनाओ

Multibagger Stock : इस फार्मा कंपनी के निवेशक मालामाल, 20 साल में दिया 4 गुना रिटर्न, अब 12% सस्‍ता मिल रहा शेयर



हाइलाइट्स

शेयर मार्केट में नरमी के बावजूद हेल्थकेयर सेक्टर कंपनी एबॉट इंडिया के शेयरों में तेजी आई है.
एबॉट इंडिया ने अपने निवेशकों के पैसों को सिर्फ 20 वर्षों में करीब 64 गुना बढ़ाया है.
चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में एबॉट इंडिया का नेट प्रॉफिट घटा है जबकि रेवेन्यू बढ़ा है.

नई दिल्ली. शेयर मार्केट में नरमी के बावजूद हेल्थकेयर सेक्टर कंपनी एबॉट इंडिया के शेयरों में तेजी आई है. सोमवार 25 अक्टूबर को बीएसई पर इसके शेयर 0.57 फीसदी मजबूती के साथ 18,462.90 रुपये के भाव पर बंद हुए. वहीं अगर लंबी अवधि में देखा जाए तो इस कंपनी ने अपने निवेशकों की पूंजी में बेतहाशा वृद्धि की है. एबॉट इंडिया ने अपने निवेशकों के पैसों को सिर्फ 20 वर्षों में करीब 64 गुना बढ़ाया है.

इस साल की शुरुआत से अब तक इस कंपनी का मार्केट कैपिटलाइजेशन 4 फीसदी कमजोर हुआ है लेकिन पिछले एक महीने में इसमें फिर से करीब 5 फीसदी की मजबूती आई है. मौजूदा समय में इसका कुल मार्केट कैपिटलाइजेशन करीब 39,232.37 करोड़ रुपये का है.

ये भी पढ़ें – Investment Tips : विदेशी शेयर बाजार में पैसा लगाने से पहले समझें जरूरी बातें, फिर यूं करें शुरुआत

निवेशकों को किया मालामाल
पिछले 20 वर्षों में एबॉट इंडिया ने अपने निवेशकों की पूंजी को करीब 64 गुना तक बढ़ाया है. कंपनी के शेयर 18 अक्टूबर 2002 को 289.95 रुपये के भाव पर थे, जो आज बढ़कर 18,452.05 रुपये के भाव पर पहुंच गए हैं. इस तरह से इन 20 वर्षों में एबॉट इंडिया के शेयरों में 6263.87 फीसदी वृद्धि हुई है.

12 फ़ीसदी डिस्काउंट पर मिल रहे कंपनी के शेयर
इस साल 7 फरवरी 2022 को एबॉट इंडिया के शेयर 15525 रुपये के भाव पर थे, जो कंपनी का पिछले 52 हफ्ते का सबसे निचला स्तर है. बाद में इसके शेयरों में फिर से खरीदारी का रुझान बढ़ा और इसमें काफ़ी तेजी देखी गई. छह महीने में ये शेयर करीब 26 फीसदी बढ़त के साथ 20895 रुपये के भाव पर पहुंच गया. फिर एक बार इसमें थोड़ी नरमी आई और अब तक यह करीब 12 फीसदी कमजोर हो  चुका है.

कंपनी की वित्तीय सेहत
बीएसई पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक चालू वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही में एबॉट इंडिया कंपनी का नेट प्रॉफिट तिमाही आधार पर घटा है जबकि इसने रेवेन्यू में बढ़त हासिल की है. चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही अप्रैल-जून 2022 में कंपनी का नेट प्रॉफिट तिमाही आधार पर 211.41 करोड़ रुपये से घटकर 205.64 करोड़ रुपये रहा. वहीं इसी दौरान रेवेन्यू 1,255.02 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,304.37 करोड़ रुपये पर पहुंच गया.

क्‍या-क्‍या काम करती है कंपनी 
एबॉट इंडिया का मुख्य कारोबार न्यूट्रीशनल प्रोडक्ट्स, डायग्नोस्टिक टूल्स, ब्रांडेड जेनेरिक दवाइयां और डाइबिटीज व वस्कुलर डिवाइसेज बनाने का है. कंपनी की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक यह एबॉट के वैश्विक फार्मा कारोबार की भारतीय इकाई और एबॉट लैबोरेटरीज की सब्सिडियरी है.

Tags: Business news in hindi, Investment tips, Money Making Tips, Multibagger stock, Share market



Source link