अंतराष्ट्रीय

पाकिस्तान में आर्थिक संकट के बीच लाखों कपड़ा श्रमिक हुए बेरोजगार, कपड़ा उद्योग भी पतन के कगार पर



पाकिस्तान में कपड़ा उद्योग के बड़े केंद्र फैसलाबाद में काम कर रहे कपड़ा मजदूर अशरफ अली की नौकरी जाने का मतलब उन्हें अपना पूरा जीवन अंधकारमय दिखने लगा।

42 साल के अली सात बच्चों के पिता हैं। वो कहते हैं, “मैं फैसलाबाद के सितारा टेक्सटाइल्स में काम करता था, जहां से मुझे देश में कपास की कमी की वजह से निकाल दिया गया। मैं 24 साल से इस कंपनी में काम कर रहा हूं और अब नौकरी जाने से अवसाद की स्थिति में हूं।” अशरफ अली पाकिस्तान के कपड़ा उद्योग में काम कर रहे उन करीब सत्तर लाख लोगों में से हैं, जिन्हें हाल ही में अपनी नौकरियों से हाथ धोना पड़ा है। कभी पाकिस्तान का फलता-फूलता यह औद्योगिक क्षेत्र निर्यात में कमी की वजह से गंभीर आर्थिक संकट से जूझ रहा है।



Source link