छत्तीसगढ़

देश के कई होटल बारूद के ढेर पर! लेवाना होटल अग्निकांड जैसे कई मामले आ चुके हैं सामने, फिर भी इतनी लापरवाही क्यों?



होटलों में आखिर परेशानी क्या है?

1.. ज्यादातर होटल की इमारतों के ढांचे काफी पुराने हैं, जो हादसों को न्योता दे रहे हैं।

2. बाहुत सारे होटल रेलवे स्टेशनों और बस स्टैंडों के पास हैं। इन होटलों की इमारतें एक-दूसरे से सटी हुई हैं, अगर किसी होटल में अनहोनी हुई तो दूसरे पर खतरा बढ़ जाता है।

3. अधिकांश होटल काफी भीड़-भाड़ वाले इलाकों में हैं, जहां लोगों के ऊपर हमेशा खतरा मंडराता रहता है।

4. सड़कों का संकरा होना भी हादसे की बड़ी वजह है। हादसा होने पर वहां राहत बचाव कर्मियों को पहुंचने में परेशानी होती है।

5. हादसे के दैरान पानी खत्म हुआ तो फिर दमकल की गाड़ी में पानी भरने का कोई सोर्स नहीं है।



Source link