छत्तीसगढ़

देश को एक करने के अभियान ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के लिए छोड़ दी एयर इंडिया की नौकरी



लेकिन इन दिनों तो राष्ट्रवाद का दावा तो किसी और का है? इस सवाल के जवाब में अतीशा कहती हैं, “जिनके मुख्यालय पर तिरंगा झंडा जबरन लगाया गया हो, जिन्होंने हमेशा तिरंगे का विरोध किया हो, जो अंग्रेजों के मुखबिर रहे हों, वो राष्ट्रवाद का दावा केवल लोगों को मूर्ख बनाने के लिए करते हैं। उनके दिल में राष्ट्रवाद नहीं नफरतें हैं।“

भारत जोड़ो यात्रा के बारे में अतिशा का कहना है कि भारत जोड़ो यात्रा ने जिंदगी का एक नया रूटीन तय कर दिया है। उन्होंने कहा, “अचानक हमारा जीवन बिल्कुल बदल गया है। सोना, उठना, बैठना, खाना, पीना सबका समय बदल गया है। यहां बहुत कम पानी में सब काम निपटाना पड़ता है।“



Source link