ताज़ा खबर

जिले के समस्त शासकीय व निजी अस्पतालों में आने वाले सर्दी, बुखार, खांसी, बदन दर्द आदि के मरीजों का कोविड टेस्ट अनिवार्य ,फिलहाल जिले में एक्स ई का कोई प्रकरण नहीं : सीएमएचओ डॉ केसरी


रायगढ़ , तीसरी लहर के बाद एक बार फिर कोरोना संक्रमण की आहट होने से स्वास्थ्य विभाग चौकन्ना हो गया है। कोरोना संक्रमण के नए वेरिएंट एक्स ई से लोगों को बचाने तथा छत्तीसगढ़ में इसकी रोकथाम की पुख्ता व्यवस्था करने के लिए स्वास्थ्य संचालक की ओर से सभी जिलों को पत्र जारी कर निर्देशित किया गया है।
कोरोना संक्रमण के दौर में विशेषज्ञों द्वारा अब एक नए वेरिएंट एक्स ई की पहचान की गई है, जिसका प्रभाव देश के कई राज्यों में देखा भी जा रहा है। वहीं इस बीच स्वास्थ्य संचालक द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ.एसएन केसरी ने सभी विकासखण्ड चिकित्सा अधिकारियों व जिला अस्पताल के सिविल सर्जन को तमाम व्यवस्था पुख्ता करने के लिए मार्गदर्शन दिया है।

Cmho5

इस सम्बंध में सीएमएचओ डॉ. एसएन केसरी ने बतायाः “कोविड का खतरा अभी भी पूरी तरह टला नही है, इसके नए वेरिएंट एक्स ई की पहचान होने के बाद इसके नियंत्रण के लिए तेजी से कार्य किया जा रहा है । इसी कड़ी में जिले में रैपिड एंटीजन जांच नियमित रूप से जारी है। कोविड के नए वेरिएंट एक्स ई का ट्रांसमिशन रेट अधिक है, इस वजह से इसके प्रसार की संभावना भी ज्यादा है जिले के समस्त शासकीय व निजी अस्पतालों में आने वाले सर्दी, बुखार, खांसी, बदन दर्द आदि के मरीजों का कोविड टेस्ट अनिवार्य किया जा रहा है।”
उन्होंने आगे बताया, “किसी भी माध्यम से कोविड प्रकरण सामने आने पर पूर्व की भांति ही सभी मरीजों का उपचार व देखभाल किया जाएगा, इसके लिए सभी तैयारियां कर ली गई हैं। कोरोना संक्रमण के लक्षण वाले मरीजों का एंटीजन के साथ-साथ आरपीआर टेस्ट भी अनिवार्य रूप से कराया जाएगा। कोविड नियंत्रण के लिए राज्य से इस सम्बंध में समय-समय पर जैसा निर्देश व मार्गदर्शन मिलेगा, उसके अनुरूप नियंत्रण टीम के माध्यम से कार्य सुचारू रखे जाएंगे।“

कोविड टीकाकरण आवश्यक, सतर्कता जरूरी
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. केसरी ने बताया: “फिलहाल जिले में एक्स ई का कोई प्रकरण नही हैं, लेकिन यदि कोविड के प्रकरण आए तो इसे नए वैरिएंट का मानकर ही उपचारित किया जाएगा। फिलहाल जिले में 23 अप्रैल 2022 की 8 बजे के बुलेटिन के अनुसार 1 ही कोविड मरीज है, जिसका उपचार किया जा रहा है। जिले में अब तक 72,450 लोग कोविड से स्वस्थ हो चुके हैं।”
डॉ केसरी ने लोगों से अपील की है कि “कोविड गाइड लाइन का पालन करें और कोविड टीकाकरण के सभी डोज अवश्य लगवाएं । वहीं आमजन अपने आसपास के छूटे हुए लोगों को कोविड टीकाकरण अवश्य कराने के लिए प्रेरित करें।”
……………………………………