छत्तीसगढ़

पूर्वी लद्दाख में भारत ने 65 में से 26 गश्ती प्वाइंट्स पर पहुंच खोई! पुलिस अधिकारी की रिपोर्ट से हुआ खुलासा



लेह की पुलिस अधीक्षक ने रिपोर्ट में लिखा है कि 65 पेट्रोलिंग प्वाइंट्स में से 26 में हमारी उपस्थिति पूरी तरह खत्म हो गई है। उन्होंने बताया है कि पीपी नंबर 5-17, 24-32, 37 पर भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा कोई गश्त नहीं करने के कारण यह हालात हुए हैं।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

Engagement: 0

पूर्वी लद्दाख में भारत ने 65 में से 26 गश्त बिंदुओं तक अपनी पहुंच खो दी है। लद्दाख के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी की रिपोर्ट से इस बात का खुलासा हुआ है। यह रिपोर्ट पिछले हफ्ते दिल्ली में देश के शीर्ष पुलिस अधिकारियों के वार्षिक सम्मेलन में पेश की गई थी।

एनडीटीवी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, लद्दाख के मुख्य शहर लेह की पुलिस अधीक्षक पीडी नित्या ने यह रिपोर्ट पेश की है। उन्होंने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि, “वर्तमान में काराकोरम दर्रे से चुमुर तक 65 गश्त बिंदु (पीपी) हैं, जिन तक आईएसएफ (भारतीय सुरक्षा बल) द्वारा नियमित रूप से गश्त किया जाना है।”

लेह की पुलिस अधीक्षक ने रिपोर्ट में आगे लिखा है कि इन कुल 65 पेट्रोलिंग प्वाइंट्स में से 26 पीपी यानी गश्ती प्वाइंट्स में हमारी उपस्थिति पूरी तरह खत्म हो गई है। उन्होंने बताया है कि पीपी नंबर 5-17, 24-32, 37 पर भारतीय सुरक्षा बलों द्वारा कोई गश्त नहीं करने के कारण यह हालात हुए हैं।

खबर के मुताबिक, बताया जा रहा है कि यह रिपोर्ट पिछले हफ्ते दिल्ली में देश के शीर्ष पुलिस अधिकारियों के वार्षिक सम्मेलन में दायर की गई थी, जिसमें पीएम मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने भी हिस्सा लिया था। फिलहाल इस बात की जानकारी नहीं है कि सरकार की ओर से इस रिपोर्ट पर क्या कार्रवाई की गई है।




Source link