राष्ट्रीय

सिसोदिया के समर्थन में दो राज्यों के सीएम बोले, ‘आजाद भारत के सबसे बेहतरीन शिक्षा मंत्री’



दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर शुक्रवार सुबह सीबीआई टीम जांच के लिए पहुंची, इसके बाद राज्य के दो मुख्यमंत्री उनके समर्थन में उतर आए हैं। दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल और पंजाब के सीएम भगवंत मान ने सिसोदिया को भारत का सबसे बहतरीन शिक्षा मंत्री बताया है साथ ही सीबीआई को पूरा सहयोग करने की बात भी कही है। सिसोदिया के घर सीबीआई टीम दिल्ली की नई एक्साइज पॉलिसी की जांच के सिलसिले में पहुंची है। वहीं उनके घर के अलावा तत्कालीन आबकारी आयुक्त अरवा गोपी कृष्ण के घर पर भी सीबीआई की टीम ने छापा मारा है। छापेमारी पर मनीष सिसोदिया ने कहा, “मुझे तुम्हारी साजि़शें तोड़ नहीं सकेंगी। मैंने दिल्ली के लाखों बच्चों के लिए ये स्कूल बनाए हैं, लाखों बच्चों की जि़ंदगी में आई मुस्कान मेरी ताकत है। तुम्हारा इरादा मुझे तोड़ने का है। मेरा इरादा तो ये है।”

सीबीआई छापेमारी पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, “जिस दिन अमेरिका के सबसे बड़े अखबार न्यू यॉर्क टाइम्स के फ्रंट पेज पर दिल्ली शिक्षा मॉडल की तारीफ और मनीष सिसोदिया की तस्वीर छपी, उसी दिन मनीष के घर केंद्र ने सीबीआई भेजी। सीबीआई का स्वागत है। पूरा सहयोग करेंगे। पहले भी कई जांच/रेड हुईं। कुछ नहीं निकला। अब भी कुछ नहीं निकलेगा।”

उन्होंने कहा, “दिल्ली के शिक्षा और स्वास्थ्य मॉडल की पूरी दुनिया चर्चा कर रही है। इसे ये रोकना चाहते हैं। इसीलिए दिल्ली के स्वास्थ्य और शिक्षा मंत्रियों पर रेड और गिऱफ्तारी की कोशिशें की जा रही हैं। इसीलिए भारत पीछे रह गया। दिल्ली के अच्छे कामों को रुकने नहीं देंगे।”

इसके साथ ही पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा, “मनीष सिसोदिया आजाद भारत के सबसे बेहतरीन शिक्षा मंत्री हैं। आज यूएस के सबसे बड़े अखबार न्यू यॉर्क टाइम्स ने फ्रंट पेज पर उनकी फोटो छापी और आज ही मोदी जी ने उनके घर सीबीआई भेज दी। ऐसे भारत कैसे आगे बढ़ेगा?”

दरअसल दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना के कहने पर यह सीबीआई जांच शुरू की गई, मुख्य सचिव नरेश कुमार की रिपोर्ट में कहा गया था कि, ‘नई नीति के जरिए शराब लाइसेंसधारियों को फायदा पहुंचाया गया। रिपोर्ट में सीधे मनीष सिसोदिया का नाम लिया गया था। यह रिपोर्ट एलजी को सौंपी गई थी।’

आईएएनएस के इनपुट के साथ





Source link