Bor1
ताज़ा खबर

धौराभाठा गांव में एनटीपीसी ने प्राथमिक शाला में बोर खनन कर छोड़ा अधुरा,कभी भी हो सकता है, बड़ी हादसा


धरमजयगढ़:– बोर खनन कर अधुरा छोड़ने लापरवाही बरतने पर कई हादसे का शिकार होने का खबर लगातार देखने व सुनने को मिलता रहा है। अभी वर्तमान में जांजगीर जिला के मालखरौदा में भी एक बच्चा बोरवेल में गिर गया है,जिसका रेस्क्यू जारी है। तब भी लोग लापरवाही बरतने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं। ऐसा ही एक मामला देखने को मिल रहा है जहां पर बोर खनन कर लगभग डेढ़ महीने हो चुके हैं। लेकिन अभी तक बोर मशीन नहीं लग पाया है। जो कभी भी बड़े हादसे का शिकार को आमंत्रण दे रहा है।

Bor3
हम बात कर रहे हैं ।धर्मजयगढ़ विकासखंड क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत पुटूकछार के आश्रित ग्राम धौराभाठा के प्राथमिक शाला भवन का जहां पर बाउंड्री वाल के अंदर ही एनटीपीसी के तरफ से बोर का खनन किया गया है।जो लगभग डेढ़ महीने करीब हो चुके हैं। लेकिन आज तक ना तो कोई एनटीपीसी का अधिकारी आया और ना बोर मशीन फिट करने वाले कोई कर्मचारी।

Bor2
आपको बता दें, बोर खनन के लिए जब बोरवेल गाड़ी ने प्राथमिक शाला आंगन में घुसने के लिए घेराव बने गेट से लगे दिवाल को भी तोड़ दिया है, और देखें तो टुठा हुआ,गेट दिवाल भी अप्रिय घटनाओं को निमंत्रण दे रहा है। बोर खनन कर केसिंग पाइप की लंबाई इतनी छोटी होने के वजह से भी जल्द ही मिट्टी में तब्दील होने की कगार पर है। और महत्वपूर्ण बात तो यह है,कि बोरवेल खनन गढ्ढे में किसी भी प्राणी को गिरने आहत भी हो सकती है।
ग्रामीणों एवं शाला में पदस्थ स्वीपर का कहना है, कि बोर करने आए कर्मियों का कहना था, कि 15 दिवस के अंदर में बोर मशीन फिटिंग कर दिया जाएगा यह टूटा हुआ दीवाल को भी सुधार मरम्मत कर दिया जावेगा। लेकिन आज तक अता ना पता नहीं है। स्वीपर का यह भी कहना है, कि एनटीपीसी तरफ से बोरवेल्स मैनेजर या फिर कोई कर्मचारी का मोबाइल नंबर 9827158586 से संपर्क होता था। जो अभी कई बार संपर्क करने पर भी कॉल रिसीव नहीं किया गया और अभी फिलहाल चार-पांच दिनों से मोबाइल नंबर बंद बता रहा है। लेकिन यह सोचने वाली बात है, आखिर यह माजरा क्या है।
अब देखना यह होगा, कि समाचार प्रकाशन के बाद एनटीपीसी द्वारा बोर मशीन एवं स्कूल के टूटा हुआ बाउंड्री दीवाल को कब तक सुधार किया जाता है।