छत्तीसगढ़

चोरों का गुलाम बनने से मरना बेहतर, चुनाव की घोषणा तक लॉन्ग मार्च रहेगा जारी- इमरान खान



इस बीच मार्च के इस्लामाबाद पहुंचने की तारीख को लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है। द न्यूज ने बताया कि पहले, योजना 4 नवंबर तक संघीय राजधानी पहुंचने की थी, जिसे बाद में 8 से 9 नवंबर कर दिया गया और फिर 11 नवंबर तक संशोधित कर दिया गया है। इस बीच पीटीआई नेता फवाद चौधरी ने कहा है कि पार्टी ‘सरकार को थका देने तक’ तारीखें बदलती रहेगी।



Source link