ताज़ा खबर

राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत जोरापाली में हुआ स्वास्थ्य परीक्षण


रायगढ़, 6 अप्रैल 2022/ राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग छत्तीसगढ़ शासन की चिरायु योजना अंतर्गत स्वस्थ बचपन सुरक्षित भविष्य के उद्देश्य को लेकर शासकीय प्राथमिक शाला जोरापाली व आंगनबाड़ी केंद्र जोरापाली रायगढ़ में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लोइंग रायगढ़ की चिरायु टीम द्वारा नौनिहालों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया।
उल्लेखनीय है कि चिरायु योजना छत्तीसगढ़ राज्य की स्वास्थ्य योजना है। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत चिरायु की टीम अलग-अलग जगह पर जाकर नौनिहालों का स्वास्थ्य परीक्षण करती है। कई बच्चे जन्मजात से ही कुछ बीमारियों के साथ पैदा होते हैं। वहीं कुछ अशुद्ध भोजन व अन्य किसी कारण से गंभीर बीमारी का शिकार हो जाते हैं। बच्चों का चेकअप ना हो पाने की वजह से यह बीमारी उनके शरीर में धीरे-धीरे बढ़ती जाती है और गंभीर रूप ले लेती है। बच्चों की बीमारी को गंभीर स्थिति में पहुंचने से पहले ठीक कर सके इसी उद्देश्य को लेकर योजना के माध्यम से स्कूल, आंगनबाड़ी व अन्य स्थानों पर चिरायु टीम द्वारा जांच केंद्र स्थापित कर चिकित्सा विशेषज्ञों द्वारा निशुल्क स्क्रीनिंग की जाती है। इसी तारतम्य में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लोइंग की चिरायु टीम ने शासकीय प्राथमिक शाला जोरापाली रायगढ़ व आंगनबाड़ी जोरापाली रायगढ़ के नौनिहालों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। चिरायु की टीम में डॉ. दीप्ति गुप्ता एवं डॉ अनीता चंद्रा तथा फार्मेसिस्ट हीना पटेल द्वारा छात्र-छात्राओं का स्वास्थ्य परीक्षण कर उनकी शारीरिक कमियों, रोगों की पहचान का नि:शुल्क इलाज प्रदाय किया गया। चिरायु टीम द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान बच्चों के वजन, ऊंचाई, शारीरिक बनावट, त्वचा की जांच, आंख, कान, नाक, गला, सहित अन्य शारीरिक परीक्षण कर पालकों की काउंसलिंग करते हुए पालकों व छात्र-छात्राओं को स्वस्थ बचपन और सुरक्षित भविष्य का महत्व समझाते हुए आवश्यकता अनुसार उन्हें दवाइयां भी वितरित की गई। परीक्षण के दौरान शासकीय प्राथमिक शाला के प्रधान पाठक श्री आशीष रंगारी, सहायक शिक्षक श्री प्रवीण कुमार नायक, सहायक शिक्षिका श्रीमती शबाना खातून व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती कृष्णा जायसवाल उपस्थित रहीं।