छत्तीसगढ़

GFP ने सोनाली फोगाट की मौत पर CM सावंत से पूछे तीखे सवाल- क्या उन्हें हरियाणा के ‘हाई प्रोफाइल’ राजनेताओं के फोन आए हैं?



गोवा फॉरवर्ड पार्टी के अध्यक्ष और विधायक विजय सरदेसाई ने मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत से सवाल किया है कि उन्होंने हरियाणा बीजेपी नेता सोनाली फोगाट की मौत के मामले में शुरुआती चरण में पुलिस को धीमी गति से कार्य करने के लिए क्यों कहा? शनिवार को एक संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों से बातचीत करते हुए, सरदेसाई ने सावंत से यह भी जानना चाहा कि क्या उन्हें हरियाणा के ‘हाई प्रोफाइल’ राजनेताओं के फोन आए हैं?

सरदेसाई ने मांग करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री सावंत को गृह मंत्री का पद छोड़ देना चाहिए।
सरदेसाई ने सवाल किया, “मुख्यमंत्री ने शुरुआती चरण में पुलिस को मामले में धीमी गति से चलने के लिए क्यों कहा? क्या उन्हें हरियाणा के हाई प्रोफाइल राजनेताओं के फोन आए? क्या सीएम ने हरियाणा के कुछ हाई प्रोफाइल राजनेता को बचाने की कोशिश की और क्या यही कारण था कि उनकी मृत्यु को कार्डियक अरेस्ट करार दिया?”

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को इन सवालों का जवाब देना चाहिए। सरदेसाई ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज के अनुसार सोनाली फोगाट 23 अगस्त की सुबह करीब 4.27 बजे तक कर्ली के रेस्टोरेंट में थीं। उन्होंने सीएम की मंशा पर सवाल उठाते हुए आगे कहा, “लगभग 8 बजे (23 अगस्त को) राष्ट्रीय मीडिया में उनकी मृत्यु के बारे में ब्रेकिंग न्यूज थी कि उन्हें अस्पताल में मृत लाया गया था। बाद में, मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि उन्हें पता चला है कि यह कार्डियक अरेस्ट था। सीएम ने आखिर यह निष्कर्ष कैसे निकाल लिया?”

सरदेसाई ने कहा कि 24 अगस्त को फिर से मुख्यमंत्री ने दोहराया कि यह कार्डियक अरेस्ट था।
सरदेसाई ने कहा, “मुख्यमंत्री को कार्डियक अरेस्ट के इस प्रकरण पर सफाई देनी चाहिए।” उन्होंने कहा कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता इस मुद्दे पर चुप हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ



Source link