छत्तीसगढ़

तस्करी, यौन शोषण की शिकार विदेशी लड़कियां निजी आश्रय गृह से गायब, दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस से मांगा जवाब



मालीवाल ने कहा कि मुझे इस बात की चिंता है कि तस्करों ने इसकी साजिश रची होगी क्योंकि उन सभी को अभी गिरफ्तार किया जाना बाकी है। मैंने दिल्ली पुलिस को समन जारी किया है। मैं चाहती हूं कि वे इन 5 लड़कियों को आयोग के सामने पेश करें, सभी तस्करों की गिरफ्तारी सुनिश्चित करें और लड़कियों के पासपोर्ट बरामद करें। राजधानी में चल रहे ऐसे अंतरराष्ट्रीय सेक्स रैकेट के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

आयोग के मुताबिक, उज्बेकिस्तान की सात महिलाओं ने अंतरराष्ट्रीय तस्करी और वेश्यावृत्ति रैकेट की शिकायत दर्ज की थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि उन्हें नौकरी दिलाने के बहाने भारत लाया गया था, लेकिन जब वे यहां पहुंचीं तो उन्हें वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर किया गया। जब वे भारत पहुंचीं तो उन्हें वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर किया गया और जब उन्होंने इसका विरोध किया, तो उन्हें धमकाया गया और पीटा गया और कहा गया कि उन्हें पकड़कर जेल में डाल दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में रहने के दौरान उन्हें अलग-अलग मालिकों को बेंचा गया और बार-बार बलात्कार किया गया।



Source link