ताज़ा खबर

पुलिस की त्वरित कार्रवाई से नाबालिग बालिका से छेड़खानी मामले में अपचारी बालक भेजा गया बाल संप्रेक्षण गृह..


रायगढ़ । कल दिनांक 12.05.2022 के रात्रि थाना भूपदेवपुर में क्षेत्र में ईट बनाने का काम करने वाले कुछ लोग आकर उनके नाबालिग बालिका को ग्राम कांशीचुआ के एक लडके द्वारा बालिका को सुने निर्माणाधीन मकान में ले जाकर छेड़खानी करना बताये । मामले को गंभीरता से लेते हुए थाना प्रभारी भूपदेवपुर निरीक्षक अमित शुक्ला द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर अपने स्टाफ के साथ छेड़खानी के आरोपी की पतासाजी के लिए रवाना हुए जिनके द्वारा रातभर कई गांव में दबिश देकर आरोपी पतासाजी किया गया, सुबह भोर में आरोपी पकड़ा गया जो विधि के साथ संघर्षरत अपचारी बालक निकला ।

घटना के संबंध में पीड़ित बालिका के परिजन बताये कि कल दिनांक 12.05.2022 के शाम बालिका अपने झोपड़ी से अपनी छोटी बहन के साथ बड़ी मां के घर पैदल जा रही थी । रास्ते में कांशीचुआ लड़का मिला जो कहां जा रही हो कहकर जबरजस्ती डरा धमकाकर गंदी नियत से पास के निर्माणाधीन मकान में ले गया हो हल्ला सुनकर जब मकान पहुंचे तो लड़का भाग गया, लड़की डरी हुई थी । आरोपित अपचारी बालक को अप.क्र. 67/2022 धारा 354,354(ख),506 IPC, 8 Pocso Act के अपराध में न्यायिक रिमांड पर किशोर न्याय बोर्ड रायगढ़ के समक्ष पेश किया गया, जहां से उसे बाल संप्रेक्षण गृह भेजा गया है । आरोपित बाल अपचारी की पतासाजी मं निरीक्षक अमित शुक्ला, थाना प्रभारी भूपदेवपुर, प्रधान आरक्षक जागेश्वर दिगस्कर, जे.पी. नायक, आरक्षक विकास सिंह, मिनकेतन पटेल, श्रवण बरिहा की अहम भूमिका रही है ।