छत्तीसगढ़

UKSSSC पेपर लीक मामले में CBI जांच की मांग तेज, हरीश रावत बोले- BJP में अभी कई ‘हाकम’, बड़ी मछलियों पर शिकंजा कसना बाकी



यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में अब तक 22 गिरफ्तारियां हो चुकी हैं, हालांकि अभी रडार पर कई और लोग हैं। इस बीच विपक्ष की मांग है कि मामले की सीबीआई जांच करे, विपक्ष का आरोप है कि बड़ी मछलियों पर शिकंजा नहीं कसा जा रहा।

Getty Images
Getty Images
user

Engagement: 0

UKSSS पेपर लीक का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। एक ओर जहां इस मामले में गिरफ्तारी का दौर जारी है, वहीं दूसरी ओर इस पूरे मामले को लेकर सरकार लगातार घिरती हुई भी नजर आ रही है। कांग्रेस यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग लगातार कर रही है। इसी कड़ी में मामले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने बीजेपी पर जुबानी हमला किया है। इसके साथ ही नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने भी इस मामले को लेकर सरकार पर निशाना साधा है।

BJP में अभी कुछ और हाकम: हरीश रावत

उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत ने इस पूरे मामले में कहा कि BJP में अभी कुछ हाकम सिंह ऐसे हैं जिनको सामने लाना होगा। क्योंकि हाकम सिंह के भी कुछ ऐसे हाकम होंगे, जिन्हें सामने लाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच सीबीआई या फिर हाईकोर्ट के जज से कराई जानी चाहिए। इसके लिए कांग्रेस पार्टी संघर्ष का रास्ता अपनाने जा रही है।

यशपाल आर्य भी सरकार पर हमलावर हुए

नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने भी यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले पर सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी लगातार यह बात कहती आ रही थी कि अगर सरकार को निष्पक्ष जांच और दोषियों को सजा दिलवानी है तो इस मामले की जांच न्यायाधीश के संरक्षण में की जाए। अन्यथा इसकी जांच सीबीआई को सौंप देनी चाहिए, ताकि सच सामने आ सकें।

यशपाल आर्य ने कहा कि एक व्यक्ति का नाम बार-बार सामने आ रहा है, जो मात्र मोहरा है। ऐसे में इसमें और कौन लोग शामिल हैं, इसकी भी जांच होनी चाहिए। नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य का कहना है कि ना सिर्फ यूकेएसएसएससी बल्कि उन संस्थाओं की भी जांच की जानी चाहिए जिनके अंतर्गत अन्य परीक्षाएं आयोजित हुई हैं, वो संस्थाएं भी जांच के दायरे में आनी चाहिए।

दरअसल, यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले को लेकर कांग्रेस पार्टी सरकार पर हमलावर है। कांग्रेस का कहना है कि इस मामले में और भी कई हाकम होंगे, जिन्होंने पेपर लीक में अपना किरदार निभाया है। ऐसे में सरकार उनको भी सामने लाए और उन पर भी कार्रवाई करें। कांग्रेस ने इस मामले की जांच हाईकोर्ट के जज या सीबीआई से कराने की मांग उठाई है। बता दें कि यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में अब तक 22 गिरफ्तारियां हो चुकी हैं, हालांकि अभी रडार पर कई और लोग हैं।




Source link