पैसा बनाओ

DCX Systems IPO: दिवाली के बाद खुलेगा यह इश्‍यू, जानिए प्राइस बैंड से लेकर लॉट साइज तक हर जरूरी बात



हाइलाइट्स

डीसीएक्‍स सिस्‍टम्‍स इलेक्ट्रॉनिक सब-सिस्टम्स और केबल हार्नेसेज बनाने वाली प्रमुख कंपनी है.
कंपनी के कस्टमर्स में से कुछ फॉर्च्यून 500 कंपनियां भी शामिल हैं.
कंपनी का आर्डर बुक 31 मार्च 2022 को बढ़कर 2369 करोड़ रुपये पर जा पहुंचा है.

नई दिल्‍ली. दिवाली (Diwali) के बाद अगर आप आईपीओ से कमाई करने का मौका तलाश रहे हैं तो आपके लिए एक अच्‍छी खबर है. दिवाली के बाद बैंगलुरू की कंपनी डीसीएक्‍स सिस्‍टम्‍स (DCX Systems IPO) का आईपीओ 31 अक्‍टूबर लॉन्‍च होगा. आईपीओ के शेयरों के लिए 1 नंवबर तक बोलियां लगाई जा सकती हैं. 500 करोड़ रुपये के इस इश्‍यू में 400 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे, जबकि 100 करोड़ का ऑफर फॉर सेल होगा. आईपीओ की लिस्टिंग बीएसई और एनएसई पर होगी.

डीसीएक्‍स कंपनी इलेक्ट्रॉनिक सब-सिस्टम्स और केबल हार्नेसेज बनाने वाली भारत की लीडिंग कंपनियों में से एक है. कंपनी के प्रोमोटर्स एनसीबीजी होल्डिंग (NCBG Holdings Inc ) और वीएनजी टेक्नोलॉजी (VNG Technology) ऑफर फॉर सेल में अपनी हिस्सेदारी बेचेंगे. आईपीओ में 75 फीसदी हिस्‍सा संस्थागत निवेशकों के रिजर्व रखा गया है. 15 फीसदी कोटा गैर-संस्थागत निवेशकों के लिए और 10 फीसदी खुदरा निवेशकों के लिए रिजर्व किया गया है.

ये भी पढ़ें-  Post Office Scheme: मिलेगा बढ़िया ब्‍याज और पैसा भी रहेगा सुरक्षित, इस स्‍कीम में पैसे लगाने के हैं फायदे ही फायदे

प्राइस बैंड
कंपनी ने इस आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 197 से 207 रुपये प्रति शेयर तय किया है. आईपीओ में एक लॉट में 72 शेयर हैं. इसमें एक लॉट खरीदना जरूरी है. इस लिहाज से कम से कम 14,904 रुपये का निवेश कम से कम आईपीओ में करना होगा. आईपीओ से मिलने वाली रकम का इस्‍तेमाल कंपनी कर्ज चुकाने और वर्किंग कैपिटल जरूरतों को पूरा करने के लिए किया जाएगा. साथ ही इश्‍यू से मिले पैसे का उपयोग सब्सिडियरी रैनियल एडवांस सिस्टम्स में निवेश, कैपिटल एक्सपेंडिचर खर्च और जनरल कॉरपोरेट जरुरतों को पूरा करने के लिए किया जाएगा.

कंपनी प्रोफाइल
डीसीएक्‍स सिस्‍टम्‍स कंपनी इलेक्ट्रॉनिक सब-सिस्टम्स और केबल हार्नेसेज बनाने वाली भारत की प्रमुख कंपनियों में से एक है. दिसंबर 2021 तक इजरायल, अमेरिका, कोरिया और भारत जैसे देशों में कंपनी के 26 कस्टमर थे. कंपनी के कस्टमर्स में से कुछ फॉर्च्यून 500 कंपनियां भी शामिल हैं. इसके अलावा कई मल्टीनेशनल कंपनियां और स्टार्टअप कंपनी की ग्राहक लिस्ट में शामिल हैं.

ये भी पढ़ें-  Diwali shopping 2022: स्‍मार्ट शॉपिंग के हैं 4 मंत्र, आप भी करें इनका प्रयोग और देखें कमाल

कंपनी की आय 2019-20 में 449 करोड़ रुपये थी. 2021-22 में यह 56.64 फीसदी बढ़कर 1102 करोड़ रुपये हो गया. कंपनी का आर्डर बुक मार्च 2020 को 1941 करोड़ रुपये था जो 31 मार्च 2022 को बढ़कर 2369 करोड़ रुपये पर जा पहुंचा है. एडलवाइज फाइनेंशियल सर्विसेज, एक्सिस कैपिटल और सैफ्रॉन कैपिटल आईपीओ के बुक रनिंग लीड मैनेजर्स हैं.

Tags: Business news in hindi, IPO, Money Making Tips, Stock market



Source link