पैसा बनाओ

DCX Systems IPO : ग्रे मार्केट में धूम मचा रहा है डीसीएक्‍स सिस्‍टम्‍स का शेयर, क्‍या आपको भी लगानी चाहिए बोली?



हाइलाइट्स

डीसीएक्‍स सिस्‍टम्‍स इलेक्ट्रॉनिक सब-सिस्टम्स और केबल हार्नेसेज बनाती है.
वित्त वर्ष 20-22 के बीच कंपनी का ऑपरेशन्‍स से राजस्व 56.64% सीएजीआर से बढ़ा.
आईपीओ में 75 फीसदी हिस्‍सा संस्थागत निवेशकों के लिए रिजर्व है.

नई दिल्‍ली. बैंगलुरू की कंपनी डीसीएक्‍स सिस्‍टम्‍स (DCX Systems IPO) का आईपीओ 31 अक्‍टूबर को लॉन्‍च होगा. 500 करोड़ रुपये के इस इश्‍यू में 400 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे, जबकि 100 करोड़ का ऑफर फॉर सेल होगा. ग्रे मार्केट में आईपीओ के अनलिस्टिड शेयर 40 फीसदी प्रीमियम पर ट्रेड कर रहे हैं. आईपीओ की लिस्टिंग बीएसई और एनएसई पर होगी.

कंपनी ने आईपीओ का प्राइस बैंड 197 से 207 रुपये प्रति शेयर तय किया है. DCX Systems के आईपीओ में एक लॉट साइज में 72 शेयर हैं और निवेशकों के लिए एक लॉट खरीदना जरूरी है. इस तरह एक निवेशक को कम से कम 14,904 रुपये निवेश करना होगा. अधिकतम 13 लॉट खरीदे जा सकते हैं. यानी अधिकतम करीब 193752 लाख के करीब निवेश इनवेस्‍टर इस आईपीओ में कर सकता है.

ये भी पढ़ें-  25 वर्षों में पहली बार IT सेक्टर के शेयर पोर्टफोलियो से पूरी तरह बाहर! आखिर क्यों? जानिए

क्‍या चल रहा है GMP?
लाइव मिंट की एक रिपोर्ट के अनुसार, डीसीएक्‍स सिस्‍टम्‍स आईपीओ के शेयरों को ग्रे मार्केट में जबरदस्‍त समर्थन मिल रहा है. गुरुवार को शेयर 80 रुपये प्रीमियम पर ट्रेड कर रहे थे. कंपनी के शेयर 11 नवंबर, 2022 को बीएसई और एनएसई पर सूचीबद्ध हो सकते हैं. अनलिस्टेड एरिना के सह-संस्थापक अभय दोषी का कहना है कि कंपनी ने लगातार शानदार वित्तीय प्रदर्शन किया है. वित्त वर्ष 20-22 के बीच कंपनी का ऑपरेशन्‍स से राजस्व 56.64% सीएजीआर से बढ़ा. कंपनी का ऑर्डर बुक मजबूत है. दोषी का कहना है कि स्वदेशी विनिर्माण और रक्षा उपकरणों के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए सरकार की पहल के कारण हाल ही में डिफेंस स्‍टॉक्‍स मजबूत हुए हैं. इसका लाभ भी कंपनी को मिल रहा है.

ये भी पढ़ें-  Multibagger Stock : इस शेयर ने 4 साल में ही लगा दी पैसों की ‘ढेरी’, आपके पोर्टफालियो में भी होना चाहिए यह स्‍टॉक

10 फीसदी हिस्‍सा रिटेल निवेशकों के लिए आरक्षित
आईपीओ में 75 फीसदी हिस्‍सा संस्थागत निवेशकों के लिए रिजर्व है. 15 फीसदी कोटा गैर-संस्थागत निवेशकों के लिए और 10 फीसदी खुदरा निवेशकों के लिए रिजर्व किया गया है. आईपीओ से मिलने वाली रकम का इस्‍तेमाल कंपनी कर्ज चुकाने और वर्किंग कैपिटल जरूरतों को पूरा करने के लिए करेगी.

कंपनी की मजबूत स्थिति
डीसीएक्‍स सिस्‍टम्‍स इलेक्ट्रॉनिक सब-सिस्टम्स और केबल हार्नेसेज बनाने वाली भारत की प्रमुख कंपनियों में से एक है. कंपनी के कस्टमर्स में से कुछ फॉर्च्यून 500 कंपनियां भी शामिल हैं. कंपनी की आय 2019-20 में 449 करोड़ रुपये थी. 2021-22 में यह 56.64 फीसदी बढ़कर 1102 करोड़ रुपये हो गया. कंपनी का आर्डर बुक मार्च 2020 को 1941 करोड़ रुपये था जो 31 मार्च 2022 को बढ़कर 2369 करोड़ रुपये पर जा पहुंचा है.

Tags: Business news in hindi, IPO, Money Making Tips, Stock market



Source link