छत्तीसगढ़

सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट के 10 से ज्यादा पिलर में आया क्रैक, ऑडिट टीम ने ट्विन टावर गिरने के बाद किया निरीक्षण



नोएडा में ट्विन टावर को गिराने के बाद सुपरटेक एमराल्ड और एटीएस विलेज का पोस्ट स्ट्रक्चर ऑडिट शुरू हो गया है। आज डी एंड आर कंसलटेंट की स्ट्रक्चरल टीम ने दोनों सोसाइटी का निरीक्षण किया, जिसमें सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट के 10 से 12 पिलर में माइनर क्रैक मिले हैं। एमरोल्ड कोर्ट से ज्यादा नुकसान एटीएस विलेज को हुआ है।

ट्विन टावर के डिमोलिशन के बाद आज पहला स्ट्रक्चर ऑडिट हुआ है। सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट के 10 से 12 पिलर में माइनर क्रैक मिले हैं। आज टोटल 110 कॉलम चेक किए गए हैं। माइनर क्रैक की शिकायत पर टीम ने इंस्पेक्शन किया है। इनमें से कुछ कॉलम्स के रिबाउंड हैमर और कोर कटिंग टेस्ट कराया जाएगा। जिसकी रिपोर्ट 1 सप्ताह में आएगी। जिससे पिलर कि स्ट्रेंथ का पता चलेगा।

स्ट्रक्चरल ऑडिट करने वाली टीम ने बताया है कि एमराल्ड कोर्ट से ज्यादा नुकसान एटीएस विलेज को हुआ है। एटीएस विलेज की तरफ ट्विन टावर का बड़ा हिस्सा टूटकर गिरा था। एटीएस सोसायटी के करीब 1 दर्जन से ज्यादा पिलर्स में क्रैक आया है। डी एंड आर कंसलटेंट की स्ट्रक्चरल टीम ने ही डिमोलिशन से पहले भी दोनों टावरों का स्ट्रक्चर ऑडिट किया था।

2 से 3 दिनों में टीम निरीक्षण कर अपनी रिपोर्ट सीबीआरआई को सौंपेगी। फिर सीबीआरआई अपनी रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को सौंपेगा। डी एंड आर कंसलटेंट डिजाइन स्टूडियो (फरीदाबाद) दोनों सोसायटियों का स्ट्रक्च र ऑडिट कर रही है। उनकी शुरूआती जांच में पता चला है की एमराल्ड कोर्ट से करीब 2 से 3 गुना ज्यादा नुकसान एटीएस विलेज को हुआ है।



Source link