वारदात

उत्तराखंड में सर्राफा व्यापारियों को मिली लॉरेंस और गोल्डी बरार के नाम से रंगदारी की धमकी, दहशत में व्यापारी



पूर्व व्यापार मंडल अध्यक्ष दीपक वर्मा के भाई पुरुषोत्तम वर्मा की मुख्य बाजार में श्री गुरु ज्वैलर्स नाम से दुकान है। मंगलवार शाम 4:40 बजे पुरुषोत्तम वर्मा को सेटेलाइट फोन से कॉल आई।
कॉलर ने खुद को गोल्डी बरार गिरोह से जुड़ा हुआ बताते हुए 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगी। उसने रुपये की डिमांड करते हुए कहा कि वह शाम तक खाते का नंबर भेज रहा है।

खाते में रकम डाल दो अन्यथा इसका बुरा अंजाम भुगतना होगा। शाम 4:52 बजे मुख्य बाजार के आनंद ज्वैलर्स के स्वामी विवेक वर्मा को भी सेटेलाइट फोन से कॉल आई। इस बार कॉलर ने कहा कि ’30 लाख रुपये का इंतजाम कर शाम तक।’ यह पूछने पर कि कौन बोल रहे हो, कॉलर ने जवाब दिया कि ‘लॉरेंस बिश्नोई बोल रहा हूं पंजाब जेल से तेरे काशीपुर में गोली चली है, समझ ले। जान प्यारी है तो 30 लाख का इंतजाम कर शाम तक नहीं तो तेरी दुकान पर गोली चलेगी।’

सर्राफ के यह कहने पर कि मैं रुद्रपुर से बोल रहा हूं, कपड़े की दुकान पर काम करता हूं। इस पर कॉलर ने अभद्रता करते हुए कहा कि ‘झूठ बोल रहा है। मैं सब जानता हूं।’

इसके बाद शाम 5:07 बजे इसी नंबर से मेन बाजार निवासी अशोक ज्वैलर्स के स्वामी गौरव अग्रवाल को भी सेटेलाइट फोन से कॉल आई। कॉलर ने उनसे 50 लाख रुपये की रंगदारी मांगी।

कॉलर ने बताया कि वह पंजाब की मोगा जेल से बोल रहा है। आधे घंटे के भीतर तीन प्रतिष्ठित सराफा व्यापारियों को रंगदारी के लिए धमकी मिलने से क्षेत्र में खलबली मच गई।

एसपी ने बताया कि, इस संबंध में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। केस के खुलासे के लिए कई एजेंसियों का सहयोग लिया जाएगा।



Source link