राष्ट्रीय

पीएम मोदी पर बनी बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर भड़की BJP सरकार, बदनाम करने के लिए पक्षपाती प्रोपेगैंडा पीस बताया



बीजेपी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बनी बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री सीरीज की आलोचना की है। सरकार ने इसे ‘पक्षपातपूर्ण प्रोपेगेंडा’ करार देते हुए पीएम को बदनाम करने के लिए जानबूझकर डिजाइन किया गया प्रचार का हिस्सा करार दिया है। इसे भारत में प्रदर्शित नहीं किया गया है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने गुरुवार को कहा कि बीबीसी डॉक्यूमेंट्री उस एजेंसी पर प्रतिबिंब है जिसने इसे बनाया है। हमें लगता है कि यह बदनाम करने के लिए डिजाइन किया गया प्रचार का हिस्सा है। इसमें पूर्वाग्रह, निष्पक्षता की कमी और निरंतर औपनिवेशिक मानसिकता स्पष्ट रूप से दिखाई दे रही है।

दो पार्ट वाली बीबीसी सीरीज इंडिया: द मोदी क्वेश्चन ने तीखी प्रतिक्रियाएं आकर्षित की हैं। इस सीरीज का सारांश कहता है कि यह भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत के मुस्लिम अल्पसंख्यकों के बीच तनाव पर केंद्रित है और 2002 के दंगों में उनकी भूमिका के बारे में दावों की जांच कर रहा है, जिसमें हजारों लोग मारे गए थे। हालांकि, अब सरकार ने इसके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

गौरतलब है कि पिछले साल जून में सुप्रीम कोर्ट ने 2002 के गुजरात दंगों के मामले में गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी और कई अन्य लोगों को विशेष जांच दल द्वारा दी गई क्लीन चिट को चुनौती देने वाली दंगे के दौरान मारे गए कांग्रेस के पूर्व सांसद एहसान जाफरी की पत्नी जकिया जाफरी की याचिका खारिज कर दी थी।



Source link