छत्तीसगढ़

साइरस मिस्त्री की मौत मामले में एक और खुलासा! हाईवे पर 100 KMPH की रफ्तार से दौड़ रही थी कार, फिर अचानक…



हांगकांग से मर्सिडीज बेंज विशेषज्ञों की टीम भारत आने वाली है। 12 सितंबर को यह टीम हादसे की वजहें जानने के लिए कार की जांच कर सकती है। कंपनी ने कार में लगी चिप विश्लेषण के लिए जर्मनी भेजी है। इससे पहले, IIT खड़गपुर की फोरेंसिक टीम ने हादसे के लिए हाईवे पर बने सूर्या नदी के पुल की खराब डिजाइन को जिम्मेदार बताया था। फोरेंसिक टीम की रिपोर्ट के मुताबिक कार की हालत और मिस्त्री के पोस्टमॉर्टम के समय अंदरूनी अंगों के जख्म यह दिखाते हैं कि कार बेहद तेज रफ्तार से चल रही थी। टीम के सदस्यों ने कहा कि हमारे पास पुख्ता रिपोर्ट है कि पिछली सीट पर बैठे दोनों लोगों (साइरस और जहांगीर) ने सीट बेल्ट नहीं लगा रखा था।

वहीं, आरटीओ ने भी अपनी रिपोर्ट पालघर पुलिस को दे दी है। आरटीओ ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि जब एक्सीडेंट हुआ, तब चार एयर बैग्स खुल गए थे. इनमें से तीन एयर बैग्स ड्राइवर के सामने, नीचे और सिर के पास खुल गए थे। जबकि एक एयर बैग ड्राइवर की बगल वाली सीट के सामने खुल गया था।



Source link