अंतराष्ट्रीय

भाड़े के सैनिकों को यूक्रेन भेज रहीं अमेरिकी-ब्रिटिश कंपनियां, पाकिस्तान में हादसे में 22 की मौत



भाड़े के सैनिकों को यूक्रेन भेज रहीं अमेरिकी और ब्रिटिश कंपनियां

रूस ने दावा किया है कि अमेरिका और ब्रिटेन की निजी सैन्य कंपनियां (पीएमसी) भाड़े के सैनिकों को यूक्रेन भेज रही हैं। आरटी के मुताबिक, रूसी विदेश मंत्रालय की आधिकारिक प्रतिनिधि मारिया जखारोवा ने एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा, “उनके लिए (भाड़े के) शिपमेंट यूएसए और ब्रिटेन में पीएमसी द्वारा आकर्षित होते हैं और निश्चित रूप से उनके खिलाफ प्रतिबंध का कोई सवाल ही नहीं है।” जखारोवा ने कहा कि भाड़े के सैनिकों के साथ ओएससीई, यूरोप परिषद और नाटो सहित अंतर्राष्ट्रीय संस्थान ‘खुशी से खामोश’ हैं।

इस बीच, रूसी रक्षा मंत्रालय ने यूक्रेनी ‘राष्ट्रवादी बटालियनों के उग्रवादियों’ पर रूसी सेना से भागते हुए मारियुपोल के समुद्री बंदरगाह में एक बड़े अन्न भंडार में जानबूझकर आग लगाने का आरोप लगाया है। मंत्रालय के एक बयान के अनुसार, आगजनी का कथित कृत्य मारियुपोल के निवासियों के लिए अनाज की आपूर्ति रोकने के लिए किया गया। नतीजतन, 50,000 टन से अधिक अनाज नष्ट हो गया। दावा किया गया है, “यह अमानवीय अपराध पूरे विश्व समुदाय को कीव शासन का ‘असली चेहरा’ दिखाता है, जो वास्तव में अपने ही लोगों के खिलाफ खाद्य आतंकवाद के तरीकों का उपयोग करता है।”



Source link