क्रिकेट

5 अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी, जिन्होंने अपना धर्म परिवर्तन किया



इस दुनिया में जब मनुष्य जन्म लेता है तो उसका नाता किसी न किसी धर्म से जुड़ जाता है। जन्म लेने वाले बच्चे के माता पिता का जो धर्म होता है वही बच्चे का भी धर्म होता है। मगर काफी सारे लोग ऐसे भी होते हैं, जो अपने पैतृक धर्म से खुश नहीं होते या अपनी पसंद और मन की शांति की वजह से या फिर किसी और कारण से अपना धर्म बदलते हैं।

ऐसे लोगों की संख्या काफी अधिक है, जो अपनी खुशी से अपना धर्म बदलते हैं। क्रिकेट जगत भी धर्म परिवर्तन से जुड़ा नहीं है। आज हम आपको ऐसे क्रिकेटर्स के बारे में जो अपना धर्म परिवर्तन करते हैं। इस लिस्ट में क्रिकेट की दुनिया के बड़े-बड़े नाम शामिल हैं, तो आइए नजर डालते हैं ऐसे पांच खिलाड़ियों पर, जिन्होंने अपना धर्म बदल लिया है –

1 – वेन पर्नेल

दक्षिण अफ्रीका के तेज समुद्री वेन पार्नेल (वेन पार्नेल) ने अपने करियर के दौरान मुस्लिम धर्म को अपनाया था। उस समय कहा गया था कि पर्नेल ने अपने साथी खिलाड़ी हाशिम आमला से प्रभावित होकर क्रिस्चन से खुद को इस्लाम धर्म में परिवर्तित कर लिया। हालांकि, टीम मैनेजर ने इस बात को खारिज कर दिया। उन्होंने 30 जुलाई 2011 को इस्लाम धर्म अपना लिया था।

2 – एजी कृपाल सिंह

पूर्व भारतीय क्रिकेटर एजी कृपाल सिंह (AG कृपाल सिंह) ने भी अपना धर्म बदला था। उन्होंने साल 1955 से 1964 तक भारत के लिए क्रिकेट खेला। किपल का जन्म एक सिख परिवार में हुआ था। लेकिन उन्हें एक ईसाई लड़की से प्यार हो गया और उन्होंने शादी करने के लिए क्रिश्चियन धर्म अपना लिया। धर्म के साथ उन्होंने अपना नाम भी अलग-अलग अर्नोल्ड जॉर्ज कर लिया था।

3 – महमूदुल हसन

बांग्लादेश के क्रिकेटर महमूदुल हसन (Mahmudul Hasan) मुस्लिम से हिंदू धर्म में परिवर्तित हुए। वे 2008 में बांग्लादेश की अंडर-19 विश्व कप टीम का हिस्सा थे। 2009 में उन्होंने श्रीलंका, जिम्बाब्वे और इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू श्रृंखला के दौरान अपनी टीम का नेतृत्व किया। उन्होंने महमूदुल हसन नाम के साथ बांग्लादेश के लिए एक टेस्ट मैच खेला और बाद में हिंदू धर्म में परिवर्तित हो गए। महमूदुल हसन ने अपना नाम अलग-अलग विकास रंजन दास रखा। इसके बाद उन्होंने अपने देश के लिए कभी कोई मैच नहीं खेला।

4 – तिलकरत्ने दिलशान

श्रीलंका की क्रिकेट टीम के एक और खिलाड़ी का नाम इस सूची में शामिल है। यह खिलाड़ी तिलकरत्ने दिलशान (तिलकरत्ने दिलशान) हैं। श्रीलंका क्रिकेट इतिहास के सबसे बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक हैं। उनका जन्म एक मुस्लिम परिवार में हुआ था। लेकिन, जब वे 16 साल के हो गए, तो उन्होंने अपना धर्म अलग बौद्ध धर्म को अपना लिया। आपको बता दें कि धर्म परिवर्तन से पहले उन्हें तुवान मुहम्मद दिलशान के नाम से जाना जाता था।

5 – मोहम्मद यूसुफ

पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी मोहम्मद यूसुफ (मोहम्मद यूसुफ) ग्रीन जर्सी टीम के सबसे शानदार बल्लेबाजों में से एक हैं। युसूफ का जन्म एक ईसाई परिवार में हुआ और उनके माता-पिता ने उनका नाम यूसुफ योहाना रखा। यूसुफ पाकिस्तान टीम में चौथे गैर-मुस्लिम खिलाड़ी थे। मगर 2005 में उन्होंने इस्लाम धर्म अपना लिया और अपना नाम यूसुफ योहाना से मुहम्मद यूसुफ रख लिया।



Source link